! अब लिखो बिना डरे !

शीशे के हम नहीं कि टूट जायेंगे ; फौलाद भी पूछेगा इतना सख्त कौन है .

557 Posts

1411 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 12171 postid : 886437

मोदी :राष्ट्रनायक नहीं खलनायक !

Posted On: 19 May, 2015 Politics,Celebrity Writer में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

  • Modi statements ??cause trouble for them
  • जब तक केंद्रीय सत्ता में नहीं थे ये
    भारत में जन्म लेने पर
    शर्म आती थी इन्हें !
    ………………………………………..
    सत्ता में आते ही
    चमत्कार कर डाला
    भारत को तीन सौ पैंसठ दिन में
    विश्व की महाशक्ति बना डाला !
    ………………………………………….
    एक वर्ष में तीस से ज्यादा
    विदेशों की यात्रा ,
    ये है मोदी सरकार की
    उपलब्धि ,
    विदेशी धरती पर
    दिए ऐसे भाषण कि
    शर्मिदा है हर भारत वासी
    अरे मोदी जी !
    भारत की अस्मिता
    मिटटी में मिलकर रख दी !
    ……………………………………
    भारत को विश्व में सम्मान
    दिलाने वाले हमारे पूर्वज भी
    देख रहे होंगें ,
    ये कैसा राष्ट्र-नायक आया ?
    जिसने उनके अमूल्य योगदानों को
    दो कौड़ी का बताया
    और सूट-बूट पहनकर
    खुद पर ही इतराया !
    ………………………………..
    ऐसे राष्ट्र-खलनायक
    पर लगना चाहिए
    राष्ट्र-अपमान का अभियोग !
    शेख़चिल्लियों की जुबानों
    पर लगे निर्णायक रोक !
    …………………………..
    सदैव से है ‘भारत ‘
    विश्व का गौरव ,
    क्या बीता हुआ कल और
    क्या आने वाला कल ,
    अगली बार जब चुनों
    राष्ट्र-नायक
    भावनाओं से ऊपर
    रखना अक्ल !
  • शिखा कौशिक ‘नूतन’



  • Tags:

    Rate this Article:

    1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 3.67 out of 5)
    Loading ... Loading ...

    7 प्रतिक्रिया

    • SocialTwist Tell-a-Friend

    Post a Comment

    CAPTCHA Image
    *

    Reset

    नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

    Jitendra Mathur के द्वारा
    May 23, 2015

    मैं आपकी भावनाओं को समझ सकता हूँ शिखा जी ।

    munish के द्वारा
    May 20, 2015

    जिस प्रकार लोहे को लोहा काटता है जहर को जहर मारता है उसी प्रकार कांग्रेस रुपी खलनायकों की वंशवादी गद्दार बेल को ख़त्म करने के लिए एक खलनायक की जरूरत है

    amitshashwat के द्वारा
    May 20, 2015

    अपनी अनुभुति अलग बात है ..समय ही निर्णय देगा . नजर बनाए रखने की जरूरत है

    rameshagarwal के द्वारा
    May 20, 2015

    जय श्री राम देश में मोदीजी के समर्थक बहुत है पर कुछ आलोकाक भी है जिनको सब बुरा ही बुरा दिखाई देता जैसे कांग्रेस,नितीश,वामदल और ममता.ये तो समाया बताये गा की देश का नाम ऊंचा किया की नहीं.जिस रंग के चसेमे से देखो वैसा ही लगता है.कविता अच्छी है.

    Maharathi के द्वारा
    May 20, 2015

    अच्छे दिन कब आयेंगे बता देउ तारीख । फिर सवाल मत पूछ ये मान हमारी सीख ।। मान हमारी सीख कि दिन अच्छे आये हैं । अच्छे दिन के गीत नहीं यूँ ही गाये हैं ।। महारथी हम रोज उड़ाते लच्छे लच्छे । कब था दावा तेरे दिन आयेंगे अच्छे।। ।। कुण्डली।। डा. अवधेश किशोर शर्मा ‘महारथी’ वृन्दावन, मथुरा (उ.प्र.) +919319261067

    jlsingh के द्वारा
    May 20, 2015

    ज्यादा बोलने के चक्कर में आत्म प्रशंशा के लालच में कुछ गलत बातें मुंह से निकल ही जाती है.

    May 20, 2015

    सच में ऐसा देश का नायक नहीं हो सकता .सार्थक सहज अभिव्यक्ति .आभार


    topic of the week



    latest from jagran