! अब लिखो बिना डरे !

शीशे के हम नहीं कि टूट जायेंगे ; फौलाद भी पूछेगा इतना सख्त कौन है .

578 Posts

1451 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 12171 postid : 725990

एक प्रश्न

Posted On: 1 Apr, 2014 social issues,Celebrity Writer में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

एक प्रश्न

दहेज़- प्रथा पर

कितने ही निबंध

लिखें होंगें उसने;

कितना ही बुरा

कहा होगा;

लेकिन ‘वो’

कली फिर से मसल

दी गई;

नाम ‘पूनम’ हो या ‘छवि’

या कुछ और;

कब रुकेगा

कत्लों का

यह दौर?पूछती

है हर बेटी

इस मूक समाज से;

जो विरोध में

आते हैं दहेज़-हत्या के

क्या निजी तौर पर वे

भी नहीं लेते ‘दहेज़’?

एक प्रश्न

जिसका नहीं है

आज किसी के पास

संतोषजनक जवाब….


शिखा कौशिक ‘नूतन ‘



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

April 1, 2014

sahi prashn kintu iska koi jawab nahi aaj ke samaj ke pas .


topic of the week



latest from jagran