! अब लिखो बिना डरे !

शीशे के हम नहीं कि टूट जायेंगे ; फौलाद भी पूछेगा इतना सख्त कौन है .

576 Posts

1449 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 12171 postid : 643344

हाँ राहुल जी में बहुत कमजोरियां हैं क्योंकि ..

  • SocialTwist Tell-a-Friend

हाँ राहुल जी में एक नेता के तौर पर बहुत कमजोरियां हैं क्योंकि ..
* वे पद के पीछे पागल नहीं हैं जबकि आज कोई भी नेता ऐसा नहीं है जो पद प्राप्ति की लालसा के बिना जनसेवा करता हो !
* वे अपने विरोधियों के लिए अभद्र भाषा का प्रयोग नहीं करते जबकि विरोधी पक्ष लगातार उनके लिए ‘बुद्धू ‘ ,’पप्पू ‘ , ‘शहज़ादा ‘ आदि आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करता है .
*वे जनता के साथ अपने दिल की बात साझा करते हैं जबकि नेताओं का तो दिल ही नहीं होता .
* वे अपनी ही पार्टी के गलत निर्णय के विरुद्ध खड़े हो जाते हैं ….भला ऐसा भी कोई नेता होता है वरना अडवानी जी से लेकर सुषमा जी तक मोदी को पी.एम्. पद प्रत्याशी बनाये जाने पर मुंह बंद करके क्यों बैठ जाते हैं ?…वे नेता हैं !!!
*वे व्यवस्था को बदलने की बात करते हैं ..जबकि नेता तो चाहते हैं वही घिसी-पिटी व्यवस्था चलती रहे .
और सबसे बड़ी कमजोरी
वे सच बोलते हैं ….जबकि नेताओं को सच बोलने की सख्त मनाही है . इसीलिए राहुल जी बुद्धू हैं ,पप्पू हैं और शहजादे हैं !!!
शिखा कौशिक ‘नूतन’



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

5 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

avdhesh के द्वारा
November 11, 2013

राहुल जी की तारीफ मे दो शब्द बहुत दिनों से कुछ नहीं लिखा तो दोस्तों ने पुछा क्या लग गयी तुम्हारी कलम को जंग , दोस्तों असल में राहुल जी का कोई बयान नहीं आया इसलिए नहीं मिला कोई व्यंग ! कुछ दोस्त बोलते है की आपको राहुल बाबा से क्या समस्या है जो उनके ऊपर लिखते हो हरबार , दोस्तों दरअसल राहुल जी है हमारे प्रेरणा स्रोत उन्ही की वजह से लिख पाता हूँ पंक्तिया दो चार ! राहुल जी आजकल इतने लोकप्रिय है कि उनकी वजह से रजनीकांत के चुटकुले हो गए है ख़त्म , जिस दिन इनका भाषण होता है कपिल शर्मा के टीवी शो की भी टीआरपी हो जाती है कम ! राहुल जी इतने अप्रत्याशित है कि क्या बोल रहे है दुसरो को छोड़िये इनको भी नहीं रहता ध्यान , इनके भाषण का मतलब समझाने के लिए चाटुकार दोहराते है मीडिया पे राहुल चालीसा का ज्ञान ! नेहरू गाँधी परिवार के वसंज होने की वजह से कॉंग्रेस उपाध्यक्ष बने इसीलिए सब कहते है युवराज , या फिर ये पद पाने की दूसरी विशेषता बताइए तो हम युवराज कहके आपको नही करेंगे नाराज़ ! मोदी जी तो बहाना मात्र है दरअसल कांग्रेस को तो हरवाएंगे राहुल जी के अद्भुत भाषण , भविष्य में कांग्रेस का विनाश करके गांधी जी की इच्छा पूरी करने के लिए देश करेगा आपका समरण अवधेश रना

    DR. SHIKHA KAUSHIK के द्वारा
    November 11, 2013

    2014 दूर नहीं , मोदी का कसूर नहीं जनता सारी राहुल के साथ,जीतेगा भारत में हाथ !

dhirchauhan72 के द्वारा
November 11, 2013

भगवान् करे जो आपने कहा सही हो ………मेरी राय कुछ इस प्रकार है ……. १.वो पद के लिए पागल इसलिए नहीं हैं क्योंकि उनको पता है कि वहाँ पहुच कर कुछ काम करना पडेगा ! २.उन्हें अभद्रता दिखाने कि जरुरत ही नहीं हैं इसके लिए उन्होंने कुत्ते जो पाल रखे हैं जो रात दिन भौकते हैं ! ३.मां पापा ,दिल कि बात इसीलिये करते हैं क्योकिं 44 साल तक उन्होंने और कुछ देखा ही नहीं है ! ४.आपका ये ख़याल भी गलत है क्योकि वो अपनी पार्टी के खिलाफ नहीं वो जान चुके थे कि राष्ट्रपति जी विधेयक को पास करने वाले नहीं हैं और उनके पास ये खबर आ चुकी थी वरना इस वेवकूफ को पता भी है क्या लिखा था उसमें ? ४.60 साल के शासन में जो काम इनके पुरखे नहीं कर पाये ये क्या करेंगे…….. इसका तो ये भी नहीं पता ये रहता कहाँ है और सोचता कहाँ से है ! ५.सच बोलने से पहले हिम्मत और सच्चा मन चाहिए ये क्या और क्यों बोलते हैं इन्हें खुद नहीं पता रहता तो हमारी समझ में कहाँ से आयेगा १० साल की लुटाई के बाद अब सचाई और व्यवस्था परिवर्तन की बातें करता घूमता है जिस आदमी को ये पता नहीं है की १० साल से उन्हीं की पार्टी की सरकार चल रही है उससे आप और हम क्या उम्मीद रख सकते हैं वो तो अगर कोंग्रेश में दिग्विजय सिंह जैसे गुरु घंटाल न होते तो ये अपने बिल से कभी बाहर ना आता ……….. ! कोंग्रेश मुक्त भारत ,भ्रष्टाचार मुक्त भारत ! नरेंद्र मोदी जिंदाबाद !

Imam Hussain Quadri के द्वारा
November 11, 2013

बहुत ही ज़बरदस्त सच्चाई आपने दिखाया इसी को कहते हैं कडुआ सच मैं सहमत हूँ आपसे .

November 11, 2013

dho dala shikha ji virodhiyon ke tarkon ko .vah bahut khoob .


topic of the week



latest from jagran