! अब लिखो बिना डरे !

शीशे के हम नहीं कि टूट जायेंगे ; फौलाद भी पूछेगा इतना सख्त कौन है .

579 Posts

1448 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 12171 postid : 7

स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनायें !

Posted On: 15 Aug, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

LISTEN THIS HERE -shikhakaushik06 on you tube-
भारत माता की जय !

छिप कर क्यों आता है कायर ?
आगे से आकर दिखा !
हम हैं वतन के प्रहरी
आँखें मिलकर दिखा !
तेरी हर साजिश को हम नाकाम कर देंगे
ओ दुश्मन तेरा काम हम तमाम कर देंगे !

पीछे से करता क्यों वार है ?
आगे से आकर दिखा !
है बहादुर तू अगर
मुंह न ऐसे छिपा ;
तेरी हर साजिश को हम नाकाम कर देंगे
ओ दुश्मन तेरा क़त्ल खुलेआम कर देंगे !
तेरी हर ………..

छिपकर चलाता क्यों गोली ?
आगे से आकर चला ;
हम हैं खड़े सीना ताने
हमको मिटाकर दिखा
तेरी हर साजिश को हम नाकाम कर देंगे
हंसकर अपने प्राणों का बलिदान कर देंगे !
छिपकर क्यों आता है ………..
जय हिंद !
शिखा कौशिक
[विख्यात ]



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

phoolsingh के द्वारा
August 16, 2012

शिखा जी नमस्कार बहुत ही सुंदर पंक्तियों का प्रयोग छिप कर क्यों आता है कायर ? आगे से आकर दिखा ! हम हैं वतन के प्रहरी आँखें मिलकर दिखा ! बधाई,,,,,,, फूल सिंह

dineshaastik के द्वारा
August 16, 2012

शिखा जी, सादरनमस्कार। देशभक्ति भावों से भरी हुई काव्यात्मक प्रस्तुति के लिये बधाई….


topic of the week



latest from jagran